आॅनलाइन बैंकिग क्या है? एक जरुरी जानकारी।

आज मैं आपको आॅनलाइन बैंकिग क्या है(What is Online Banking) इसके बारे में जानकारी देने जा रहा हूँ।

आॅनलाइन बैंकिग क्या है?(What is Online Banking)

आज बुहत सारे लोगों के पास कम्प्यूटर या स्मार्ट फोन है लेकिन आज भी मैं देखता हूँ कि लोग बिजली बिल भुगतान के लिए बिजली विभाग के कार्यलय में लाईन लगाए हुए हैं। या मोबाॅइल या डिश के रिचार्ज के लिए लोग दुकान में जमा हैं। जबकि यह काम आप चुटकियों में कर सकते हैं। इसके लिए जाना कहीं जाना पड़ता है और न लाईन लगानी पड़ती है। अगर आपके पास कम्प्यूटर या स्मार्ट फोन हो, जिसमें इन्टरनेट कनेक्शन हो।

इसके लिए आपको आॅनलाइन बैंकिग क्या है, यह जानना होगा। हर बैंक की अपनी आॅनलाइन बैंकिग फैसेलिटी होती है जिस पर लगभग हर प्रकार की तमाम फाईनेंसियल सर्विस उपलब्ध होती है जिसका आप आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन आपको इसका इस्तेमाल करने के पहले आॅनलाइन फैसेलिटी के लिए रजिस्टेशन करना पड़ता है जिसके बाद आपको कस्टमर आईडी या यूजर नेम और पासवर्ड दिया जाता है जिसका इस्तेमाल आप आॅनलाइन बैंकिग में लाॅन इन के लिए करते हैं। आपको कस्टर आईडी या युजर नेम और पासवर्ड के लिए अपने बैंक से संर्पक करना है जहां आपका अकाउंट है।मैं एसबीआई की आॅनलाइन सेवा इस्तेमाल करता हूँ।

आॅनलाइन बैंकिग में निम्नलिखित तरह की सुविधाएँ उपलब्ध होती हैं।(Online Banking features)

1.मिनी स्टेटमैन्ट- कहीं जगहों पर आपको अपने बैंक अकाउंट की स्टेटमैन्ट जमा करनी पड़ती है आप यहाँ से मिनी स्टेटमैन्ट का सॉफ्टकॉपी या प्रिंट आउट लेकर वहां जमा कर सकते हैं।

2.फिक्स डिपाॅजिट- आप आॅनलाइन फिक्स डिपाॅजिट यहाँ कर सकते हैं और उसे तोड़ भी सकते हैं।

3.यहाँ आप आरटीजीएस(RTGS) या निफ्ट(NEFT) के माध्यम से पैसे ट्रंसफर कर सकते हैं।

4.चेक बुक के लिए आॅडर दे सकते हैं।

5.अपने लिए इन्सूरेन्स खरीद सकते हैं।

6.बिजली या पानी का बिल भर सकते हैं।

7.अपने मोबाइल या डिस कनेक्शन का रिचार्ज कर सकते हैं।

8.आप डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।

9.आप डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड को ब्लाक कर सकते हैं।

आॅनलाइन बैंकिग के फायदें(Benefits of Online Banking)

1.यह हर वक्त उपलब्ध होने वाली सेवा है। इसका इस्तेमाल आप कहीं भी और किसी भी वक्त कर सकते हैं। यह आॅफिस की तरह खुलता या बन्द नहीें होता है।

2.यह काफी आसान से होने वाली प्रोसेस होती है। यहाँ बैंक आॅफिस की तरह फाॅर्म नहीं भरना पड़ता है।

3.यह समय की बचत करता है, आॅनलाइन बैंकिग से आप घंटो लाईन में लगने की वजाए तुरन्त अपने काम को निपटा सकते हैं। यह आप को समय की बरबादी से बचाएगा। आप वह समय दूसरे काम में लगा सकते हैं।

4.आप अपने अकाउंट से संबधित क्रियाकलापों को देख सकते हैं। आप को इसके लिए बैंक जाने की जरुर नहीं पड़ती है। आप इससे निकाले मिनी स्टेमैन्ट से पैसे के ट्रंसपर से संबधित सारी चीजें जान सकते हैं। किसे पैसे दिये गए या किससे पैसा आया, किस तारीख को आया या किस समय आया है यह सभी जानकारी आप स्टेमैन्ट से प्राप्त कर सकते हैं।

5.यह बहुत ही सुविधाजनक है। आपको इसके लिए लाईन में लगने जरुर नहीं होती है। हर प्रकार के बिल या पेमेन्ट का कुछ ही क्षण में निपटा सकते हैं।

आॅनलाइन बैंकिग के नुकसान (Drawbacks of Online Banking)

1.इसके लिए स्मार्ट फोन या कम्प्यूटर की जरुर होती है जिसमें इन्टरनेट की सुविधा होे। यदि बैंक की आॅनलाइन सर्विस किसी कारण डाउन है। तो आप इसका इस्तेमाल नहीं कर सकते है।

2.इसमें सुरक्षा एक महत्वपूर्ण कांमी हो सकती है। यद्यपि इसमें सुरक्षा के लिए टू फैक्टर का प्रयोग किया जाता है, लेकिन फिर भी हो सकता है आपके ट्रंजेक्सन को हैक लिया जाए। यद्यपि ऐसी घटना को होना बहुत ही कम होती है क्योंकि बैंक सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण अपडेट करती रहती है फिर संभावना बनी रहती है।

3.पब्लिक वाई-पाई में इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। यह काफी खतनाक हो सकता है। आॅनलाइन बैंकिग का इस्तेमाल अपने कम्प्यूटर या स्मार्ट फोन से करना चाहिए।

आशा है कि आप आॅनलाइन बैंकिग क्या है यह जान चुके होगें। और इसके फायदें नुकसान के बारे में भी जान गये होगें। मैं उम्मीद करता हूँ कि आप सभी पाठक आॅनलाइन बैंकिग का इस्तेमाल करगें।

Leave a Comment